Home World डोनाल्ड ट्रंप के साथ ऐसा होने वाला है जो आज तक किसी...

डोनाल्ड ट्रंप के साथ ऐसा होने वाला है जो आज तक किसी के साथ नहीं हुआ, यहा जानें

258
SHARE

डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के समर्थकों ने गुरुवार को कैपिटल बिल्डिंग (Capitol Building) में जमकर हंगामा किया और तोड़फोड़ की. अमेरिकी संसद में हुए बवाल के बाद इसका असर दिखने लगा है और हिंसा को लेकर ही गुरुवार को ट्रंप प्रशासन के कई अहम लोगों ने अपना इस्तीफा दे दिया.

हंगामें के बाद लगी इस्तीफों की झड़ी

कैपिटल बिल्डिंग (Capitol Building) में डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के समर्थकों के हंगामे के बाद व्हाइट हाउस (White House) के डिप्टी प्रेस सेक्रेटरी सारा मैथ्यू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. इसके अलावा मेलानिया ट्रंप (Melania Trump) की चीफ ऑफ स्टाफ स्टेफनी ग्रीशन ने भी हिंसा के विरोध में अपना पद छोड़ दिया है.

ट्रंप को तुरंत पद से हटाने की तैयारी

जो बाइडेन (Joe Biden) 20 जनवरी को अमेरिकी राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे और डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का कार्यकाल करीब दो हफ्ते बचा है, लेकिन इस बीच उन्हें तुरंत पद से हटाने की कोशिश हो रही है. डेमोक्रेट्स पार्टी के करीब दो दर्जन से अधिक सीनेटर फिर से महाभियोग लाने की तैयारी में हैं.

अमेरिकी संसद में घुस गए ट्रंप समर्थक

अमेरिकी संसद के दोनों सदन यानी सीनेट में गुरुवार को इलेक्टोरल कॉलेज के वोटों की गिनती और बाइडेन की जीत पर मुहर लगाने के लिए बैठक शुरू हुई. इस दौरान डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के सैकड़ों समर्थक संसद के बाहर जुट गए. नेशनल गार्ड्स और पुलिस इन्हें समझाने की कोशिश की, लेकिन कुछ लोग कैपिटल बिल्डिंग के अंदर घुस गए और बड़े पैमाने पर तोड़फोड़ की. इस दौरान गोली भी चली और एक महिला की मौत हो गई. हालांकि अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि गोली किसने चलाई थी.

क्या है पूरा विवाद?

बता दें कि अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए 3 नवंबर को चुनाव हुए थे, जिसमें डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) को 306 इलेक्टोरल कॉलेज वोट और रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को 232 वोट मिले थे. इसके बावजूद ट्रंप ने हार स्वीकार नहीं की और लगातार आरोप लगाते रहे कि चुनाव में बड़े पैमाने पर धांधली हुई है. इसको लेकर कई राज्यों में ट्रंप समर्थकों द्वारा केस भी दर्ज कराए गए, लेकिन ज्यादातर मामले कोर्ट ने खारिज कर दिया. अब ट्रंप समर्थक हिंसा पर उतारू हो गए हैं.