Home Jammu Kashmir Jammu Jammu Murder Case: पहले किरच से काट दिया था मां का गला,...

Jammu Murder Case: पहले किरच से काट दिया था मां का गला, बेटे ने भी दम तोड़ा

5134
SHARE

शहर के पाश इलाके गांधीनगर से सटे संजय नगर में वीरवार देर रात समधी ने घरेलू विवाद में समधन और दामाद के गले पर किरच से हमला कर दिया था। इसमें उसकी समधन शकुंतला कौर (60) की वीरवार को ही मौत हो गई थी, जबकि दामाद अमनदीप सिंह (35) ने शुक्रवार को जीएमसी में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इस हमले में शकुंतला के पति राजिंद्र सिंह भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिनका जीएमसी में उपचार चल रहा है।
पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपित पोपिंदर सिंह, अमनदीप के संग ब्याही गई उसकी बेटी गुरमीत कौर व तीन अन्य बेटियों समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। सूत्रों के मुताबिक, पोपिंदर सिंह वीरवार देर रात अपने एक साथी के साथ संजय नगर एक्सटेशन-4 में स्थित अपने समधी राजिंद्र सिंह के घर आया था। उस समय घर में उसका दामाद अमनदीप सिंह, बेटी गुरमीत कौर, समधी राजेंद्र सिंह (63) और समधन शकुंतला कौर मौजूद थे। पुलिस के मुताबिक, वहां पोपिंदर सिंह की अपने दामाद अमनदीप से किसी बात पर बहस हो गई। थोड़ी देर में यह गालीगलौज और मारपीट में बदल गई।
इस बीच पोपिंदर सिंह ने अमनदीप सिंह की दादी को वाशरूम में बंद कर दिया। इसके बाद उसने दामाद के गले पर किरच से ताबड़तोड़ कई वार कर दिया। अपने बेटे को बचाने आई शकुंतला कौर को भी उसने नहीं बख्शा। उनके गले पर भी उसने किरच से कई वार किए, जिससे वे लहूलुहान होकर नीचे गिर गई। इस बीच खून से लथपथ अमनदीप जान बचाने के लिए घर से बाहर भागा और गली तक पहुंच गया। उसके गले और सिर पर कई गहरे घाव हो गए थे, जिससे लगातार खून बह रहा था। गली में पहुंचकर वह लोगों से उसकी जान बचाने की मिन्नत करने लगा। इसी बीच वह लड़खड़ाकर वहां गिर गया। पोपिंदर सिंह ने अपने समधी राजिंद्र सिंह को भी किरच से मारकर घायल कर दिया। इसके बाद वह अपने साथी के साथ फरार हो गया।
पड़ोसियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद सभी घायलों को जीएमसी जम्मू पहुंचाया गया। वहां पोपिंदर सिंह की समधन शकुंतला कौर को मृत घोषित कर दिया, जबकि उसके दामाद अमनदीप सिंह की सांस की नली कट जाने से आपरेशन किया गया। शुक्रवार को दोपहर में अमनदीप सिंह ने भी दम तोड़ दिया। अमनदीप के पिता राजिंद्र सिंह की हालत गंभीर बनी हुई है। बहू के भी हमले में शामिल होने की पुलिस कर रही जांच वीरवार को पेश आए हत्याकांड के बाद अमनदीप के साथ ब्याही गई पोपिंदर सिंह की बेटी गुरमीत कौर ने पेट में दर्द होने की शिकायत की थी, जिसके बाद पुलिस ने उसे जम्मू के जच्चा-बच्चा अस्पताल में भर्ती करवाया था।
वहां डाक्टरों ने उसकी हालत सामान्य बताते हुए शुक्रवार सुबह उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी। अस्पताल से छुट्टी मिलते ही गांधीनगर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और उससे पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस को इस हत्याकांड में गुरमीत के भी शामिल होने का शक है। शुरुआती पूछताछ में उसने बताया कि वह हमलावरों को नहीं जानती। ऐसे में पुलिस को शक हुआ, क्योंकि हत्याकांड का मुख्य आरोपित पोपिंदर उसका पिता है। ऐसा कैसे हो सकता है कि एक ही घर में जब पोपिंदर सिंह परिवार वालों को दौड़ा-दौड़ाकर किरच से हमला कर रहा था तो गुरमीत को कुछ पता ही नहीं चला होगा।
पुलिस ने इस मामले में गली और घर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला है, जिससे पोपिंदर सिंह और उसके साथी द्वारा हत्या को वारदात को अंजाम देने की बात प्रमाणित हुई है। ऐसे में पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ आइपीसी की धारा के तहत हत्या, जबरन घर में घुसना, हत्या में तेजधार हथियारों का इस्तेमाल, घर में तोड़फोड और गालीगलौज का मामला दर्ज किया है। इसके बाद पुलिस ने पोपिंदर सिंह व उसकी बेटी समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को शक है कि सबूत मिटाने के लिए गुरमीत ने अपने पिता के साथ घर में लगे सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए थे।