Home Jammu Kashmir Jammu Jammu Kashmir: इस मामले जम्मू—कश्मीर बना भारत का पहला राज्य

Jammu Kashmir: इस मामले जम्मू—कश्मीर बना भारत का पहला राज्य

446
SHARE

जम्मू—कश्मीर के स्कूलों में अब कोई बच्चा स्वच्छ पानी से महरूम नहीं रहेगा! जम्मू—कश्मीर प्रशासन की तरफ से पिछले लम्बे अर्से से जारी मूहीम रंग लाई है! कोई स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र स्वच्छ पेयजल सुविधा से वंचित नहीं है। प्रत्येक सरकारी स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र में नल से जल की नियमित आपूर्ति हो रही है। यह उपलब्धि प्राप्त करने वाले राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में जम्मू कश्मीर पहला प्रदेश बन गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर खुद इसकी जानकारी दी।
जम्मू कश्मीर में 23,926 आंगनबाड़ी केंद्रों और ग्रामीण इलाकों के 22,422 सरकारी स्कूलों में नल से जल की सुविधा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त, 2019 को पूरे देश में हर घर में नल से जल को सुनिश्चित बनाने के लिए जल जीवन मिशन की शुरुआत की थी। इस मिशन को दिसंबर 2024 तक पूरा करना है। जम्मू कश्मीर सरकार इस मिशन को दिसंबर 2022 तक पूरा करने की दिशा में तेजी से बढ़ रही है।
गत जुलाई में ही मुख्य सचिव अरुण कुमार मेहता ने जल जीवन मिशन पर बैठक में अधिकारियों को 30 सितंबर, 2021 तक जल जीवन मिशन के दूसरे व तीसरे चरण को हर हाल में पूरा करने का निर्देश दिया था। उन्होंने यह भी सुनिश्चित करने को कहा था कि 15 अगस्त 2021 तक प्रत्येक स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र में नल से पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित होनी चाहिए।

‘पहले की सरकारों ने दशकों तक जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को विकास से वंचित रखा, सिर्फ अपने परिवारों की चिंता की। मोदी जी ने यहां विकास के नए युग की शुरुआत कर गरीब लोगों को मुख्यधारा से जोड़ा। उसी का परिणाम है कि आज जम्मू कश्मीर हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। मोदी जी के नेतृत्व में जम्मू कश्मीर शांति व समृद्धि का पर्याय बन रहा है। जम्मू कश्मीर के सभी स्कूलों व आंगनबाड़ी केंद्रों में नल से शुद्ध पेयजल की आपूॢत को समय से पूर्व सुनिश्चित करने के लिए मैं प्रधानमंत्री मोदी जी का अभिनंदन करता हूं।’ -केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का ट्वीट

जम्मू कश्मीर में यह है मिशन की प्रगति

चार जिलों में नल से जल का 100 फीसद लक्ष्य हासिल किया जा चुका है।
आठ जिलों में योजना का 90 फीसद काम हो चुका है।
प्रदेश के सिर्फ दो जिले ही 80 फीसद से नीचे हैं।
छह जिलों में जल जीवन मिशन का 80-90 फीसद काम हो गया है।
जम्मू कश्मीर के ग्रामीण इलाकों में 18.16 लाख घर हैं।
10 लाख घरों में 31 मार्च, 2021 तक नल से जल पहुंचाया जा चुका है।
मौजूदा वित्त वर्ष में 4.9 लाख घरों में नल से जल को सुनिश्चित बनाया जाएगा।
जुलाई तक ग्रामीण इलाकों में 20,245 सरकारी स्कूलों में नल से जल को सुनिश्चित किया गया है।