Home Jammu Kashmir Jammu Jammu: फर्जी दो डॉक्टर गिरफ्तार, छह की जमानत नामंजूर

Jammu: फर्जी दो डॉक्टर गिरफ्तार, छह की जमानत नामंजूर

772
SHARE
अपराध

श्रीनगर। क्राइम ब्रांच ने आयुष डॉक्टर्स एसोसिएशन कश्मीर (एडीएके) के स्वयंभू वरिष्ठ उपाध्यक्ष और उपाध्यक्ष को गिरफ्तार किया, जबकि छह अन्य डॉक्टरों की एंटी करप्शन कोर्ट ने जमानत अस्वीकार कर दी।
क्राइम ब्रांच द्वारा जारी बयान में बताया है कि मामले में फर्जी आयुष डॉक्टर्स एसोसिएशन कश्मीर (एडीके) के स्वयंभू वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. जहूर अहमद तांत्रे और उपाध्यक्ष डॉ. शबीर अहमद पर्रे को गिरफ्तार किया गया है। बताया कि आरोपियों को एंटी करप्शन कोर्ट श्रीनगर के समक्ष पेश किया गया, जिन्होंने आगे की जांच के लिए सात दिन की पुलिस हिरासत प्रदान की है।
इस बीच एंटी करप्शन कोर्ट श्रीनगर ने अन्य आरोपियों डॉ. मुश्ताक अहमद पर्रे, डॉ. फारूक अहमद नकशबंदी, डॉ. मोहम्मद अमीन कावा, डॉ. जावेद हुसैन मगलू, डॉ. रियाज अहमद तेली और डॉ. शिराज अहमद लोन की अग्रिम जमानत खारिज कर दी है, जो फर्जी एसोसिएशन के स्वयंभू पदाधिकारी थे।
क्राइम ब्रांच कश्मीर ने फर्जी एडीएके के पदाधिकारियों के खिलाफ उक्त एसोसिएशन की आड़ में अपने आधिकारिक पद का दुरुपयोग करने और आईएसएम कर्मचारियों के बीच ब्लैकमेल करने, जबरन वसूली, उत्पीड़न आदि का सहारा लेने के लिए तत्काल मामला दर्ज किया।
आरोपियों के घर पर छापा मारकर तलाशी भी ली गई, जिसमें तत्काल मामले से संबंधित आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद हुए। उन्होंने बताया कि इस दौरान यह भी पता चला कि फर्जी एडीऐके द्वारा आईएसएम विभाग के कर्मचारियों से फर्जी एसोसिएशन की अवैध गतिविधियों को चलाने के लिए वर्ष 2010 से भारी मात्रा में धन एकत्र किया गया है। मामले में आगे की जांच जारी है।