Home Jammu Kashmir Jammu Jammu : पुलिस को नहीं मिले कारतूस के खोखे, ना चश्मदीद गवाह

Jammu : पुलिस को नहीं मिले कारतूस के खोखे, ना चश्मदीद गवाह

691
SHARE

शहर के ग्रेटर कैलाश इलाके में पैरेंट्स एसोसिएशन के प्रधान अमित कपूर पर चली गोलियों का मामला संदेह के घेरे में आ गया है। पुलिस का कहना है कि अमित कपूर ने जिस स्थान पर उसकी गाड़ी पर गोली चलने की बात बताई है, वहां से पुलिस को ना तो गोलियों के खोखे मिले और न ही कारतूस मिला। जबकि गाड़ी के शीशे पर गोली लगी थी।
सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि पेट्रोल पंप के नजदीक जिस स्थान पर गोली चलने की बात बताई जा रही है, वहां अक्सर चहल-पहल रहती है, लेकिन किसी ने न तो गोली चलती देखी और ना ही गोलियों की आवाज सुनीं। कार के शीशे पर जो गोली चली है, वह नजदीक से चली हुई बताई जा रही है। एसपी सिटी साउथ दीपक ढिंगरा ने बताया कि रविवार को वारदात के समय अंधेरा हो जाने के चलते फोरेंसिक टीम को मौके पर बुलाया नहीं जा सका था। सोमवार को फोरेंसिक टीम ने सुराग जुटाए हैं।
पुलिस इस मामले में कुछ लोगों के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल खंगाल रही है। वहीं, पैरेंट्स एसोसिएशन के प्रधान अमित कपूर का कहना है कि उन पर हमला करने वाले लोगों को इस बात की पूरी जानकारी थी कि वह बड़ी ब्रह्मणा से जानीपुर जा रहे हैं। बड़ी ब्रह्मणा में वह एसोसिएशन के सदस्यों के साथ बैठक कर लौट रहे थे तो उन पर हमला हुआ। उन्होंने बड़ी ब्राह्माण में बैठक की जानकारी अपने सोशल मीडिया के जरिये लोगों को दी थी।
उन्होंने दोहराया कि उन्हें कई महीनों से धमकियां मिल रही थीं। काबिले गौर है कि ग्रेटर कैलाश इलाके से पैरेंट्स एसोसिएशन के प्रधान अमित कपूर की गाड़ी पर अज्ञात लोगों ने गोलियां चला दी थी, लेकिन अमित कपूर बाल बाल बच गए थे।