Home Jammu Kashmir Jammu Jammu: नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को गर्भपात की मिली अनुमति

Jammu: नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को गर्भपात की मिली अनुमति

2344
SHARE

जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट ने एक अहम फैसले में नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता को गर्भपात कराने की अनुमति दे दी है। इसके साथ ही राजकीय मेडिकल कालेज (जीएमसी) अस्पताल बख्शीनगर जम्मू के प्रिंसिपल को इसके लिए मेडिकल बोर्ड गठित करने का निर्देश दिया है।हाईकोर्ट के जस्टिस अली मोहम्मद मार्गे ने कहा है कि यह बोर्ड पांच फरवरी को पीड़िता की जांच करें। अगर पीड़िता गर्भवती है और गर्भपात कराने से उसे कोई खतरा नहीं तो इस संबंध में बोर्ड गर्भपात की सिफारिश करते हुए प्रिंसिपल को अपनी रिपोर्ट सौंपे। हाईकोर्ट ने यह भी कहा कि रिपोर्ट मिलने के बाद प्रिंसिपल तत्काल गर्भपात करवाने का प्रबंध करें, लेकिन इस दौरान गर्भस्थ शिशु के डीएनए का संरक्षण किया जाए। इस पूरी प्रक्रिया में पुलिस के संबंधित अधिकारी को भी शामिल किया जाए।

हाईकोर्ट ने पीड़िता के पिता की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई के बाद यह फैसला सुनाया। जस्टिस मार्गे ने जीएमसी प्रिंसिपल को निर्देश दिए कि यह पूरी प्रक्रिया निश्शुल्क होनी चाहिए। हाईकोर्ट ने स्टेट लीगल सर्विस अथारिटी के सदस्य सचिव को पीड़िता को उचित मुआवजा देने के निर्देश भी दिए हैं।

यह है मामला: पुलिस में दर्ज मामले के अनुसार पीड़िता की जन्मतिथि 17 जुलाई 2006 है। आरोपित विकास भगवान निवासी किश्तवाड़ ने अपहरण कर उससे दुष्कर्म किया था। गत दिनों पीड़िता के पिता की शिकायत पर जम्मू शहर के पुलिस स्टेशन में आरोपित के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई। पीड़िता की मेडिकल जांच में वह गर्भवती पाई गई। इस पर पीड़िता के पिता ने गुहार लगाई कि उसकी बेटी की उम्र मात्र 15 साल है। इस उम्र में मां बनने से उसके दिमागी व शारीरिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ेगा। लिहाजा उसका गर्भपात करवाने की अनुमति दी जाए।