Home Jammu Kashmir Jammu Jammu: गलत दस्तावेज बनाने वाला पटवारी गिरफ्तार, जानिये क्या है पूरा मामला

Jammu: गलत दस्तावेज बनाने वाला पटवारी गिरफ्तार, जानिये क्या है पूरा मामला

1759
SHARE

केनरा बैंक से तीस लाख रुपये की क्रेडिट लिमिट बनाने के लिए जमीन के फर्जी दस्तावजे तैयार करने के आरोपित पटवारी को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है।
आरोपित पटवारी मोहम्मद रफीक निवासी पीर बाबा, सतवारी चट्ठा ने चौधरी ट्रेडिंग कंपनी के मालिक मोहम्मद शफी निवासी तेली मोहल्ला, बड़ी ब्राह्मणा के लिए इन इस्तावेजों को तैयार किया था जिसके आधार पर बैंक ने कंपनी के लिए क्रेडिट लिमिट जारी कर दी थी। क्राइम ब्रांच के अनुसार इस संदर्भ में मामला पहले दर्ज किया जा चुका है लेकिन पटवारी जांच में सहयोग नहीं कर रहा था जिस कारण उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
इस संदर्भ में केनरा बैंक बड़ी ब्राह्मणा के सीनियर मैनेजर संदीप गुप्ता ने शिकायत दर्ज करवाई थी जिसमें उन्होंने बताया कि पटवारी ने केएफसी के सामने बड़ी ब्राह्मणा में जमीन की पहचान की थी जिसके आधार पर फरवरी 2015 में कंपनी के नाम लिमिट जारी की गई थी। उसी जमीन के आधार पर आरोपित कंपनी मालिक के साथ करार किया गया था और वह करार सब रजिस्ट्रार सांबा के समक्ष हुआ था।
आरोपित ने लिमिट का इस्तेमाल कर लिया लेकिन उसे लौटाया नहीं और उसका खाता एनपीए हो गया। बाद में जब बैंक ने जमीन की जांच की तो पता चला कि पटवारी ने कंपनी मालिक के साथ मिलीभगत कर गलत जमीन की पहचान कर उसे दस्तावेज बना दिए और बैंक को चूना लगाने का प्रयास किया था। इस संदर्भ में 2016 में मामला दर्ज कर लिया गया था। आरोपित पटवारी व कंपनी मालिक पर धोखाधड़ी, साजिश रचने की धाराओं में मामला दर्ज किया गया था जिसकी जांच क्राइम ब्रांच कर रही है।
वहीं एसएसपी क्राइम राजेश्वर सिंह का कहना है कि पटवारी जांच में सहयोग नहीं कर रहा था। पूछताछ के लिए बुलाने पर भी वह नहीं आ रहा था जिससे जांच प्रभावित हो रही थी। क्राइम ब्रांच के पास उसे गिरफ्तार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था।