Home Jammu Kashmir Jammu Jammu Kashmir: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दिए यह बड़े निर्देश

Jammu Kashmir: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दिए यह बड़े निर्देश

514
SHARE

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने आने वाले सप्ताह में स्वास्थ्य विभाग को पंद्रह लाख अतिरिक्त लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य दिया है। साप्तािक बैठक में कोविड के हालात की समीक्षा करते हुए उन्होंने पूरे जम्मू-क्श्मीर में वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी लेते हुए यह लक्ष्य स्थापित किया। डिप्टी कमिश्नर और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक में उपराज्यपाल ने टीकाकरण अभियान की स्थिति, टेस्टिंग और सभी जिलों में कोविड की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली।
उन्होंने कहा कि कोविड की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए हमें अपने आप को हर प्रकार की चुनौती का सामना करने के लिए तैयार रखना है। उन्होंने कहा कि हम सभी का टीकाकरण करके कई लोगों की जिंदगी को बचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड से बचाव के लिए जम्मू-कश्मीर में कई कदम उठाए गए हैं। पिछले साल सितंबर महीने में आक्सीजन जेनरेशन की क्षमता को 15 हजार लीटर प्रति मिनट से बढ़ाकर 66 हजार लीटर प्रति मिनट कर दिया है। जल्दी ही यह क्षमता 90 हजार लीटर प्रति मिनट हो जाएगी।
उपराज्यपाल ने टेस्टिंग, टीकाकरण, संक्रमितों के संपर्क में आने वालों का पता लगाना और एसओपी का सख्ती के साथ लागू करने पर जोर देते हुए सभी डिप्टी कमिश्नर और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए कि सभी जिलों में इनको प्राथमिकता दी जाए।उन्होंने सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ को एकत्रित न करने और लोगों में जागूरकता बढ़ाने पर जोर दिया। उन्होंने एसओपी का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्ती बरतने और ब्लाक तथा पंचायत स्तर पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने को कहा।
राष्ट्रीय संगठन महामंत्री ने जोर दिया कि पार्टी कार्यकर्ता अपनी गतिविधियों के माध्यम से उपस्थिति दर्ज करवाएं।
नगर जैसे अधिक जनसंख्या वाले जिलों में 18-44 साल के आयु वर्ग में टीकाकरण के लिए भी कोई नीति बनाने को कहा। उन्होंने कहा कि अब जम्मू-कश्मीर के सभी बीस जिले ग्रीन जोन में आ गए हैं। इसके लिए उन्होंने सभी हितधारकों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इसी तरह से कोरोना को मात देने के लिए उत्साह बनाए रखें।उन्होंने कहा कि मीडिया में आने वाले सार्वजनिक हित के मुद्दों को भी प्राथमिकता पर हल करें और साप्ताहिक आधार पर रिपोर्ट दें।

बैठक में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अटल ढुल्लू ने कोविड के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बैठक में सलाहकार आरआर भटनागर, मुख्य सचिव अरुण कुमार मेहता, गृह विभाग के प्रमुख सचिव शालीन काबरा भी मौजूद थे।