Home World 9/11 हमले को हुए 18 वर्ष : आतंकवाद, मानवता के लिए अभिशाप

9/11 हमले को हुए 18 वर्ष : आतंकवाद, मानवता के लिए अभिशाप

620
SHARE

हमारा देश ही इकलौता एक ऐसा देश नहीं जो आतंक को झेल रहा हो। अमेरिका जैसा डेवलप्ड देश भी कईं दशकों से आतंक का टारगेट बना है। आज ही के दिन 11 सितंबर 2001 में अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमला हुआ था, जिसमें हजारों की संख्या में अमेरिकी मारे गए थे। अमेरिका की शान माना जाने वाला वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पलभर में राख का ढेर बन गया था। इस घटना के प्रभाव विश्व भर में देखे गए और आज भी जब यह हादसा हमारे ज़ेहन में आता है तो हमारे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। पलभर में ही लाशों को ढेर से घटना स्थल भर गया और इस हमले की दर्दनाक और भयानक तस्वीरें काफी दिनों तक अखबारों और टीवी में आती रहीं।

इस हमले में आतंकवादियों ने दो विमानों को वर्ल्ड ट्रेंड सेंटर से टकरा दिया था, जबकि एक विमान से पेंटागन पर हमला किया था। इन विमानों में सवार यात्रियों समेत करीब 3000 लोगों की मौत हुई थी। इस हमले के पीछे ओसामा बिन लादेन का हाथ माना जाता है, जिसे सालों तक खोजने के बाद अमेरिका ने मई 2011 में पाकिस्तान के ऐबटाबाद में मार गिराया था। इस हमले को अंजाम देने के लिए करीब 19 आतंकवादियों ने चार प्लेन को हाईजैक किए था। दो हवाई जहाजों को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर और एक पेंटागन पर गिराया गया था, जबकि चौथा शेंकविले के खेत पर गिरा दिया गया। किसी भी उड़ान से कोई जीवित नहीं बचा था।

आपको बता दें कि तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने इस घटना को अमेरिकी इतिहास का सबसे काला दिन करार दिया था। वहीँ कल अमेरिकी राष्ट्रपति  डोनाल्ड ट्रंप ने आतंकियों पर नकेल कसने के लिए कई अहम ऑर्डर दिए हैं। इस कड़ी में डोनाल्ड ट्रंप ने 11 लोगों को ग्लोबल आतंकी घोषित किया है।

ऐसे आतंक की घटनाओं से यही सीखा जा सकता है कि इस समय आतंकवाद जिस तरह से पूरे विश्व में अपनी जड़े फैला रहा है, और लोगों के अंदर भय पैदा कर रहा है, यह वाकई चिंतनीय है। आतंकवाद का मुद्दा आज पूरे दुनिया में एक ज्वलंत मुद्दा बन चुका है, वहीं अगर जल्द ही आतंकवाद के प्रति लोगों के अंदर जागरुकता नहीं फैलाई गई और इसे काबू पाने के लिए सख्त कदम नहीं उठाए गए तो भविष्य में इसका काफी बुरा खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

18 Years of 9/11 Attacks: Terrorism, A Curse To Humanity

18 years of 9/11 Attacks: Terrorism, A Curse To Humanity

Posted by Jammu Parivartan on Wednesday, September 11, 2019