Home Jammu Kashmir Jammu जम्मू के तवी पुल पर 10वीं में फेल हुए विद्यार्थियों ने कूदकर...

जम्मू के तवी पुल पर 10वीं में फेल हुए विद्यार्थियों ने कूदकर आत्महत्या करने का किया प्रयास

1065
SHARE

जम्मू-कश्मीर बोर्ड ऑफ स्कूल एजूकेशन द्वारा हाल ही में घोषित किए गए 10वीं के रिजल्ट में फेल होने वाले विद्यार्थियों ने आज यानि मंगलवार को भारी विरोध प्रदर्शन किया। विद्यार्थियों ने पहले रिहाड़ी एजूकेशन बोर्ड के समक्ष पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया और फिर बाद में जम्मू के तवी पुल की ओर रुख किया। सैकड़ों की तादाद में विद्यार्थियों ने तवी पुल में दोपहर 3.20 बजे के करीब विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया और जेके बोर्ड के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सड़क के बीचोबीच ही लेट गए। इस दौरान कुछेक विद्यार्थियों ने पुल से कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास भी किया लेकिन पुलिस और वहां पर मौजूद अन्य विद्यार्थियों ने समय रहते ऐसा करने से रोक दिया। विद्यार्थियों के प्रदर्शन से पुल पर जाम लग गया है।इस दौरान पुलिस और प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों के बीच धक्का-मुक्की भी हुई।इससे पहले सुबह 10वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम में फेल घोषित हुए विद्यार्थियों के जम्मू-कश्मीर शिक्षा बोर्ड के कार्यालय को घेरने का प्रयास पुलिस ने विफल कर दिया। शहर के रिहाड़ी चौक से बोर्ड कार्यालय तक रैली निकाल कर जाने का प्रयास कर रहे इन विद्यार्थियों को पुलिस ने आगे नहीं बढ़ने दिया जिसके बाद विद्यार्थियों ने रिहाड़ी चाैक में हंगामा कर दिया।
बोर्ड कार्यालय का घेराव करने जा रहे विद्यार्थियों ने रोके जाने के बाद रिहाड़ी चौक में धरना देकर नारेबाजी करना शुरू कर दी लेकिन पुलिस ने उन्हें वहां से भी उठा दिया। हाथ तिरंगे लेकर बोर्ड कार्यालय की ओर जा रहे इन विद्यार्थियों का आरोप था कि पुलिस ने उनके साथ धक्का-मुक्की की है जबकि वे पिछले बीस दिनाें से शांतिपूर्वक अपनी मांग रख रहे हैं। इन विद्यार्थियों का कहना था हम जब भी बोर्ड में जाते हैं तो वहां अधिकारी उन्हें संतोषजनक जबाव नहीं देते हैं। हम मॉस प्रोमोशन की मांग कर रहे हैं क्याेंकि कोविड के चलते उनकी पढ़ाई नहीं हो पाई।
इसके बाद पेपर भी पूरे नहीं लिए गए जबकि परीक्षा परिणाम में उन्हें फेल कर दिया गया। वहीं विद्यार्थियों ने रि-एवेलुएशन और दोबारा पेपर देने के बोर्ड के मौके को नकारते हुए कहा कि वह हमें मंजूर नहीं है। हमें मॉस प्रोमोशन चाहिए। परिणाम घोषित करने का बोर्ड का फार्मूला सहीं नहीं था। दो पेपरों का आंकलन कर किसी के बाकी बचे तीन पेपर फेल नहीं किए जा सकते। बोर्ड अपनी गलती स्वीकार करे और हमें मॉस प्रोमोशन दे। विद्यार्थियों के प्रदर्शन के दौरान रिहाड़ी चौक में गाड़ियों का जाम लग गया लेकिन पुलिस ने विद्यार्थियों को हटा यातायात सुचारू करवाया। वहीं विद्यार्थियों ने अपनी मांग पूरा होने तक प्रदर्शन जारी रखने की चेतावनी बोर्ड को दी है।