Home Jammu Kashmir Jammu श्रीनगर जिला विकास परिषद पर Apni Party का कब्जा तय, जानिए कैसे...

श्रीनगर जिला विकास परिषद पर Apni Party का कब्जा तय, जानिए कैसे  

672
SHARE

श्रीनगर नगर निगम के बाद अब जिला विकास परिषद (डीडीसी) पर भी जम्मू कश्मीर अपनी पार्टी (JKAP) काबिज होने जा रही है। नेशनल कांफ्रेंस (NC) और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) के चक्रव्‍यूह को ध्‍वस्‍त करते हुए निर्दलीयों के बूते अपनी पार्टी अध्यक्ष पद के लिए समर्थन जुटाने में सफल होती दिख रही है। भाजपा परोक्ष तौर पर समर्थन में रहेगी।

जिला विकास परिषद के प्रधान पद के लिए मलिक आफताब के नाम पर सहमति बन चुकी है। बुधवार को ही पार्टी में शामिल हुए बिलाल अहमद बट को उप प्रधान की कुर्सी देने की तैयारी है। अब सिर्फ कार्यकारी समिति की अंतिम मंजूरी का इंतजार है। श्रीनगर में 6 फरवरी को पहली बैठक में प्रधान और उपप्रधान का चुनाव होना है।

इसके साथ ही शोपियां और बारामुला जिला विकास परिषद में भी जेकेएपी निर्दलियों की मदद से बड़ी उलटफेर करने की जुगत में है।

बिलाल समेत दो निर्दलीय हुए शामिल

इस बीच, बुधवार को अपनी पार्टी मुख्यालय में आयोजित समारोह में दो और निर्दलीय अली मोहम्मद राथर व बिलाल अहमद बट अपनी पार्टी में शामिल हो गए। इसके साथ ही श्रीनगर में अपनी पार्टी के सदस्यों की संख्या नौ हो गई है। अली मोहम्मद राथर हारवन-दो से और बिलाल अहमद बट नौगाम से चुनाव जीते थे।

चुनाव के बाद की स्थिति

जम्मू कश्मीर में पहली बार हुए जिला परिषद के चुनाव में श्रीनगर से तीन सीटें जीतकर अपनी पार्टी सबसे बड़ा दल बनकर उभरी थी। गुपकार एलांयस के बैनर तले जमा हुए नेकां, पीडीपी, जेकेपीसी और जेकेपीएम कुल मिलाकर तीन उम्मीदवार को जिताने में सफल हो पाए। भाजपा को भी एक ही सीट मिली थी और सात पर निर्दलीय काबिज हुए।

निर्दलीयों के बूते कुर्सी के करीब पहुंची जेकेएपी

चुनाव परिणाम के बाद से ही अपनी पार्टी और गुपकार एलायंस में निर्दलीयों को खींचने में जुट गए। चुऩाव परिणाम के बाद गुपकार एलायंस के दल आपसी खींचतान में जुट गए और इसका फायदा अपनी पार्टी को मिला। चंद दिनों बाद ही दो निर्दलीय अपनी पार्टी से जा मिले। एक निर्दलीय ने बाद में पार्टी का दामन थाम लिया पर कुर्सी के लिए आठ सदस्यों का समर्थन चाहिए था। ऐसे में बिलाल बट को उपप्रधान बनाने का वादा कर जेकेएपी कुर्सी के करीब पहुंच गई। बिलाल समेत दो निर्दलीयों ने बुधवार को अपनी पार्टी का दामन थाम लिया।

यहां बता दें कि श्रीनगर नगर निगम के मेयर जुनैद अजीम मट्टु भी जम्मू कश्मीर अपनी पार्टी के सदस्य हैं। वह श्रीनगर नगर निगम में अपनी पार्टी के एकमात्र सदस्य हैं और निर्दलीयों व कांग्रेस पार्षदों की मदद से मेयर बने हैं।

लोगों का यकीन अपनी पार्टी की स्पष्ट नीतियों में लगातार बढ़ रहा है। नेकां, पीडीपी बेनकाब हो चुकी हैं। हम भाजपा की बी पार्टी नहीं हैं बल्कि अपनी पार्टी एक आम कश्मीरी की पार्टी है। श्रीनगर जिला परिषद में हमारी ही पार्टी के चेयरमैन और वाईस चेयरमैन होंगे।

अल्ताफ बुखारी, अध्यक्ष, अपनी पार्टी