Home Jammu Kashmir विपक्षी दलों के निशाने पर आए बीडीसी चुनाव, पीडीपी और पैंथर्स ने...

विपक्षी दलों के निशाने पर आए बीडीसी चुनाव, पीडीपी और पैंथर्स ने की चुनावी मसौदे की निंदा

360
SHARE
फोटो: Internet

जम्मू-कश्मीर में बीडीसी के चुनावों की घोषणा के बाद सियासी हलचल शुरू हो गई है। भाजपा ने जहां सरकार के इस फैसले का स्वागत किया, वहीं पीडीपी सहित अन्य पार्टिंयों ने सरकार के इस फैसले की कड़ी आलोचना की है। पूर्व डिप्टी सीएम कविंद्र गुप्ता ने कहा है कि ये चुनाव पंचायती नुमाईंदों का विश्वास जीतने में अहम भूमिका निभा सकते हैं।

वहीं, पीडीपी के नेता सुरेंद्र चैधरी ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर सरकार हकीकत में लोकतंत्र को मज़बूत करना चाहती तो सबसे पहले उसे नज़रबंद नेताओं को रिहाई और पंच-सरपंचों की समस्याओं का समाधान सुनिश्चित करना चाहिए और उसके बाद ही बीडीसी के चुनाव होने चाहिएं। वहीं, पैंथर्स पार्टी ने भी सरकार के इस फैसले की निंदा की है।

पार्टी के चेयरमैन हर्शदेव सिंह ने कहा कि विपक्षी दलों के सभी नेता करीब दो महीनों से नज़रबंद हैं, और मात्र भाजपा ही पिछले डेढ़ महीनों से इन चुनावों की तैयारियों कर रही है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जम्मू कश्मीर में ब्लॉक विकास परिषद के चेयरपर्सन (बीडीसी) के चुनाव 24 अक्टूबर को होंगे। मतगणना भी उसी दिन ही होगी।
सभी ब्लॉकों में चुनाव पंजीकृत अधिकारी और सहायक चुनाव पंजीकृत अधिकारियों की नियुक्त की है। 310 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे। 22 जिलों में कुल 26629 मतदाता है जिसमें 8313 महिलाएं और 18316 पुरुष मतदाता है। चुनाव आयोग ने मतदाताओं के लिए पहचान पत्र को आवश्यक बनाया है। पहचान पत्र के लिए मतदाताओं को पासपोर्ट, ड्राइ¨वग लाइसेंस, बैंक पास बुक, पैन कार्ड, आधार कार्ड, पेंशन दस्तावेज आदि में एक दिखाना है।