Home Jammu Kashmir Jammu विद्यार्थी जम्मू विवि के वीसी चैम्बर के बाहर धरने पर बैठे

विद्यार्थी जम्मू विवि के वीसी चैम्बर के बाहर धरने पर बैठे

414
SHARE

जम्मू विश्वविद्यालय खुलते ही ऑनलाइन परीक्षा कराने की मांग को लेकर विद्यार्थियों ने आंदोलन शुरू कर दिया है। छात्र संगठन भी मामले में कूदने को तैयार हो गए है। कालेजों में भी ऑनलाइन परीक्षाओं को लेकर आंदोलन तेज करने के लिए विद्यार्थी सक्रिय हो गए है। जम्मू विश्वविद्यालय ने कई कोर्सों की डेटशीट जारी कर साफ किया है कि अब परीक्षाएं आफ लाइन ही होंगी।जम्मू विश्वविद्यालय के लॉ स्कूल के विद्यार्थी ऑनलाइन परीक्षाएं करवाए जाने की मांग को लेकर गत सोमवार दोपहर को वीसी चैम्बर के बाहर धरने पर बैठे थे। पूरी रात विद्यार्थी धरने पर बैठे रहे। आज मंगलवार भी धरने पर बैठे हुए है। जम्मू विश्वविद्यालय के वीसी प्रो. मनोज धर ने देर रात को विद्यार्थियों से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि पाठ्यक्रम में रियायत दी जा रही है। मात्र चालीस फीसद पाठ्यक्रम से ही प्रश्न हल करने होंगे।
विद्यार्थियों ने वीसी की पेशकश को नामंजूर करते हुए कहा कि जब पढ़ाई ऑनलाइन हुई तो फिर परीक्षाएं ऑफलाइन क्यों ली जा रही हैं। हमारी परीक्षाएं भी ऑनलाइन ही होनी चाहिए। विद्यार्थी इस समय ऑफलाइन परीक्षाएं देने के लिए तैयार नहीं है। वहीं दूसरी तरफ इंजीनियरिंग कालेज और क्लस्टर विश्वविद्यालय जम्मू के विद्यार्थी भी ऑनलाइन परीक्षाएं करवाने की मांग को लेकर आंदोलन चला रहे है।
जम्मू-कश्मीर में शिक्षण संस्थानों के खुलने पर अब विश्वविद्यालय और कालेजों ने ऑफलाइन परीक्षाओं के लिए डेटशीट जारी करना शुरू कर दी है। कालेजों और विश्वविद्यालय के खुलने के बाद अभी तक पढ़ाई सुचारु नहीं हुई है।
चार फरवरी से खुलेंगे हास्टल: जम्मू विश्वविद्यालय में चार फरवरी से हॉस्टल खोले जाने की तैयारी कर ली गई है। शुरुआती दौर में पीएचडी के स्कालरों के लिए हॉस्टल खोले जाएंगे। लड़कों के हॉस्टलाें के प्रोवोस्ट प्रो. यशपाल शर्मा की तरफ से जारी अधिसूचना के अनुसार पीएचडी करने वाले विद्यार्थियों के लिए हॉस्टल खोले जा रहे है। विद्यार्थियों को कोरोना की रोकथाम के लिए जारी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। चरणबद्ध तरीके से हॉस्टल खोले जाएंगे। पीएचडी के बाद पोस्ट ग्रेजुएट विद्यार्थियों के हॉस्टल खोले जाएंगे।