Home Jammu Kashmir राज्य से अनुच्छेद 370 हटने के बाद उपजे हालात से कश्मीर में...

राज्य से अनुच्छेद 370 हटने के बाद उपजे हालात से कश्मीर में पर्यटन व्यवसाय बुरी तरह प्रभावित

282
SHARE

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद उपजे हालात ने पर्यटन व्यवसाय का बंटाधार करके रख दिया है। करीब एक महीना पहले पर्यटकों को कश्मीर घाटी छोड़ने की एडवाईज़री जारी होने से लेकर अब तक पर्यटन व्यवसाय बुरी तरह प्रभावित हुआ है और पर्यटन कारोबारियों के लिए रोज़ी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। कश्मीर में हालांकि, अब आम जन-जीवन पटरी पर लौट आया है लेकिन पर्यटन कारोबारियों को अभी भी पर्यटकों का इंतज़ार है। श्रीनगर में हालांकि अभी किसी भी किस्म की पाबंदियां नहीं हें, लेकिन पर्यटक वहां जाने से गुरेज़ कर रहे हैं।

पर्यटन को कश्मीर की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी माना जाता है, लेकिन अब ज़्यादातर इलाकों में हालात सामान्य होने के बावजूद भी दक्षिण कश्मीर के पर्यटन स्थलों में स्थित होटल खाली पड़े हुए हैं। नुकसान सिर्फ होटल कारोबारियों को ही नहीं हो रहा बल्कि, टूर ट्रेवल एजेंट, हाऊसबोट मालिक, शिकारेवाले, टेक्सी ऑपरेटर और टूरिस्ट गाईड भी मंदी से अछूते नहीं रहे हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक जून महीने में कश्मीर में 1 लाख 74 हज़ार सैलानी आए थे, जबकि जुलाई में 3 हज़ार 403 विदेशी पर्यटकों समेत 1 लाख 52 हज़ार पर्यटकों ने कश्मीर घाटी का रूख किया था।