Home National भारत को मिला पहला राफेल ‘आरबी-001’, वायुसेना प्रमुख राकेश भदौरिया के नाम...

भारत को मिला पहला राफेल ‘आरबी-001’, वायुसेना प्रमुख राकेश भदौरिया के नाम पर रखा गया नाम

271
SHARE

वायुसेना के लिए वायुसेना दिवस बहुत अहम रहा क्योंकि कल के ही दिन भारत को पहला सबसे शक्तिशाली लड़ाकू विमानों में से एक राफेल विमान मिल गया। कल मंगलवार को फ्रांसीसी शहर बॉर्डोक्स में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और वाइस चीफ मार्शल हरजीत सिंह अरोड़ा पहुंचे जहाँ ‘हैंडओवर सेरेमनी’ में फ्रांस ने भारत को राफेल विमान सौंपा। पहले राफेल का नाम वायुसेना प्रमुख राकेश भदौरिया के नाम पर ‘आरबी-001’ रखा गया है। हालांकि राफेल की पहली खेप अगले साल मई में मिलेगी, क्योंकि भारत में इसे रखने के लिए बुनियादी ढांचा तैयार किया जा रहा है।

राफेल प्राप्त करने के बाद राजनाथ ने कहा, हमारे पास विश्व की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना है और मेरा मानना है कि राफेल हमें और भी मजबूत बनाएगा। यह क्षेत्र में शांति और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भारत के हवाई प्रभुत्व को तेजी से बढ़ावा देगा। भारत और फ्रांस के बीच 23 सितंबर, 2016 को 36 राफेल विमानों को लेकर करार हुआ था। मुझे खुशी है कि राफेल की डिलीवरी सही समय पर हो रही है। मुझे भरोसा है कि सभी राफेल विमान भारत को समय पर मिल जाएंगे।

उन्होंने कहा कि भारत और फ्रांस के बीच राजनीतिक संबंध मजबूत हो रहे हैं। मुझे खुशी है कि इस समय बड़ी संख्या में भारतीय वायु सेना के एयरमैन फ्रांस में फ्लाइंग, मेंटेनेंस और लॉजिस्टिक्स का प्रशिक्षण ले रहे हैं। इससे उन्हें भारत में काफी मदद मिलेगी। राफेल का निर्माण करने वाली दसॉल्ट एविएशन के सीईओ एरिक ट्रेपियर ने कहा, यह हमारे लिए गर्व का पल है। हमने वही किया, जो हमारे करार में था। भारतीय वायुसेना के लिए यह बड़ा दिन है। भारत का पहला राफेल विमान उड़ान भरने को पूरी तरह तैयार है।

राफेल में उड़ान भरने से पहले राजनाथ सिंह ने शस्त्र पूजा की और राफेल पर ओम लिखा। जिसके बाद उन्होंने विमान पर तिलक लगाकर फूल और नारियल चढ़ाया। इसके बाद रक्षामंत्री ने मेरीनेक एयरबेस से दसॉल्ट एविएशन के हेड टेस्ट पायलट फिलिप ड्यूश के साथ राफेल में करीब 30 मिनट उड़ान भरी।