Home Jammu Kashmir Kashmir पीओके में जुटे 150 आतंकी, नापाक करतूत का जवाब देने को हाई...

पीओके में जुटे 150 आतंकी, नापाक करतूत का जवाब देने को हाई अलर्ट पर सेना

535
SHARE

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35-ए खत्म होने के बाद पाकिस्तान लगातार भारत में अशांति फैलाने की साजिश रच रहा है। खबर है कि पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) और जम्मू-कश्मीर से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दर्जन भर आतंकी शिविरों को फिर सक्रिय कर दिया गया है।
दरअसल, फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की मई 2019 तक की समयसीमा देखते हुए लगभग पूरी तरह बंद हुए आतंकी शिविरों में पिछले सप्ताह के दौरान सक्रियता बढ़ गई है। शीर्ष खुफिया सूत्रों के मुताबिक पीओके के कोटली, रावलकोट, बाघ और मुजफ्फराबाद में आतंकी शिविर फिर सक्रिय हो गए हैं। इसे देखते हुए भारतीय सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

इमरान संसद में दे चुके गीदड़भभकी

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में संसद के संयुक्त सत्र में कहा था कि भारत में अगर पुलवामा जैसा हमला होता है तो इसके लिए इस्लामाबाद जिम्मेदार नहीं होगा। इमरान के बयान में प्रत्यक्ष तौर पर जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा तथा पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के हैंडलर्स को प्रशिक्षण शिविर और लॉन्च पैड दोबारा सक्रिय करने के लिए खुली छूट दी गई है।

खुफिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लश्कर, जैश और तालिबान के लगभग 150 आतंकी कोटली के निकट फागूश और कुंड शिविरों तथा मुजफ्फराबाद क्षेत्र में शवाई नल्लाह और अब्दुल्ला बिन मसूद शिविरों में इकट्ठे हुए हैं। जैश सरगना मसूद अजहर का भाई इब्राहिम भी पीओके में देखा गया है।

दुनिया की ओर ताक रहे इमरान से अपना घर नहीं संभल रहा

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने से बौखलाए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान दुनिया से साथ देने की भीख भले मांग रहे हों लेकिन उनसे अपना ही घर नहीं संभल रहा। इमरान विपक्ष को एकजुट करने में नाकाम रहे हैं। शुक्रवार को नेशनल असेंबली में सरकार और विपक्ष के बीच जमकर नोकझोंक हुई।

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने कहा कि कश्मीर मुद्दे पर संसद में विपक्ष द्वारा तैयार किए गए सद्भाव और एकता के माहौल को सरकार ने राजनीतिक एजेंडे को पूरा करने के लिए खराब कर दिया।

जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद से भारत के घरेलू मामले को अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाने की कोशिश में लगे इमरान लगातार दुनिया के देशों की ओर रुख कर रहे हैं, लेकिन उन्हें हर जगह से ठोकर ही मिल रही है। वह अपने देश के राजनीतिक दलों को भी इस मुद्दे पर एकजुट नहीं कर पाए हैं।

नेशनल असेंबली में संयुक्त सत्र के दौरान कश्मीर मसले पर शाहबाज ने इमरान पर हमला बोलते हुए कहा, इमरान भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी को खुश करने की कोशिश में लगे हैं। इसी मुद्दे पर बात बढ़ते-बढ़ते सत्ता और विपक्ष के सांसद आमने-सामने आ गए और असेंबली में काफी देर तक हंगामा हुआ।