Home Jammu Kashmir दरबार मूव को लेकर सुरक्षा की तैयारियां कड़ी करना का निर्देश, हाई...

दरबार मूव को लेकर सुरक्षा की तैयारियां कड़ी करना का निर्देश, हाई अलर्ट पर सुरक्षाकर्मी

311
SHARE

दरबार मूव को लेकर पुलिस की तरफ से शहर में सुरक्षा को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। एसएसपी जम्मू ने कल शुक्रवार को पुलिस अधिकारियों से बैठक कर उन्हें दरबार की सुरक्षा मजबूत करने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि दरबार मूव के दौरान राजभवन और सचिवालय जैसे रूट पर सुरक्षा कड़ी रखें। इससे पहले गुरुवार को आईजी जम्मू ने पुलिस अधिकारियों से सुरक्षा को लेकर बैठक की।

कल हुई बैठक में सभी थाना प्रभारियों से कहा गया कि वह अपने अपने इलाके में रात की गश्त को बढ़ा दें। अपने हर सूत्रों को पूरी तरह से सक्रिय करें। जिस तरह से शहर में लगातार आतंकी गतिविधियां बढ़ रही हैं, उस लिहाज से सबको सतर्कता से रहना होगा। सभी अधिकारी अपने स्तर पर बेहतर करने की कोशिश करें। सभी एजेंसियों से तालमेल बनाकर काम करें।

वहीँ मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम ने श्रीनगर से जम्मू के लिए दरबार मूव की व्यवस्था का श्रीनगर में शुक्रवार को उच्च स्तरीय बैठक में समीक्षा की। इस अवसर पर बताया गया कि सामान्य प्रशासन, गृह, आतिथ्य और प्रोटोकॉल, परिवहन, संपदा, सूचना प्रौद्योगिकी और सूचना के साथ-साथ राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र के विभाग 1 नवंबर, 2019 तक सिविल सचिवालय श्रीनगर में कर्तव्यों के लिए कुछ अधिकारियों/कर्मचारियों को बनाए रखेंगे।

बैठक में बताया गया कि 26 और 27 अक्तूबर, और दो और तीन नवंबर को आधिकारिक रिकॉर्ड और कर्मचारियों के परिवहन के लिए पर्याप्त व्यवस्था की गई है। एसआरटीसी द्वारा अग्रिम रूप से टिकट जारी किए जाएंगे। अर्थात 18 अक्तूबर से दोनों सिविल सचिवालय से और साथ ही एसआरटीसी के मुख्य बुकिंग काउंटरों से। पुलिस महानिरीक्षक (यातायात) इन तारीखों पर काफिले की आवाजाही का समन्वय करेंगे।

सुरक्षा और अनुरक्षण योजना, ट्रकों और बसों की उपलब्धता, वसूली वैन, मोबाइल कार्यशाला, स्वास्थ्य सुविधाएं और राजमार्ग के किनारे एंबुलेंस पर चर्चा की गई। मुख्य सचिव ने स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग को काजीगुंड, बनिहाल, रामसु, चंदकोट, उधमपुर और झज्जरकोटली में चिकित्सा सहायता की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने एनएचएआई को श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग की अच्छी स्थिति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उपायुक्त, रामबन एक आकस्मिक योजना तैयार रखेंगे, जिससे राजमार्ग पर यातायात बाधित न हो।