Home Jammu Kashmir डोभाल की कश्मीरियों के साथ मुलाकात पर गुलाम नबी ने उठाए सवाल,...

डोभाल की कश्मीरियों के साथ मुलाकात पर गुलाम नबी ने उठाए सवाल, कहा- पैसा देकर कुछ भी संभव

557
SHARE

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल की कश्मीरियों के साथ मुलाकात को लेकर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कश्मीरियों के साथ डोभाल के खाना खाने के वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पैसे देकर आप किसी को भी साथ ले सकते हो।

दरअसल जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद एनएसए अजित डोभाल सुरक्षा का जायजा लेने कश्मीर पहुंचे थे, इस दौरान डोभाल ने शोपियां में आम कश्मीरियों के साथ संवाद किया और साथ में बैठकर खाना भी खाया, इस तस्वीर के सामने आने के बाद जहां एक तरह लोगों ने खुशी जाहिर की। वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस ने डोभाल के इस दौरे पर सवाल खड़े कर दिए।

बुधवार को कश्मीर के हालात का जायजा लेने घाटी पहुंचे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने आम कश्मीरियों के साथ शोपियां सडक के किनारे खड़े होकर खाना खाया। भरोसा दिलाया, उनका हित सुरक्षित है। इस पर आंच नहीं आने दी जाएगी। शोपियां में एक मोहल्ले में उन्होंने दुकान की सीढ़ियों पर बैठकर आम लोगों के साथ खाना खाया। उन्हें बताया, यह फैसला सरकार ने कश्मीर के लोगों के हित में किया है, चिंता करने की जरूरत नहीं है। वीडियो में वह कहते सुने जा रहे हैं कि सब लोग आराम से रहें। ऊपर वाले की मेहरबानी है। सब कुछ अच्छा होगा। आपकी हिफाजत और सलामती हम लोगों का प्रयास है। यहां खुशहाली आएगी। आप और आपके बच्चे चैन से रह सकें, अच्छे नागरिक बनें यही प्रयास है। इस दौरान जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह भी मौजूद रहे।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद आज यानी गुरुवार को श्रीनगर पहुंचेंगे। वह घाटी में मौजूदा हालात पर पार्टी कैडर से चर्चा करेंगे। इसमें अनुच्छेद 370 को हटाने, जम्मू-कश्मीर को केंद्र प्रशासित बनाने सहित अन्य मुद्दों पर बात की जाएगी।

सूत्रों के अनुसार, श्रीनगर में होने वाली महत्वपूर्ण बैठक में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष जीए मीर आदि मौजूद रहेंगे। अनुच्छेद 370 को हटाने पर राज्यसभा में आजाद ने विरोध किया था। उन्होंने इसे संविधान के खिलाफ बताया था। आजाद ने कश्मीर में कर्फ्यू जैसे हालात पर सवाल उठाए थे।

उन्होंने आरोप लगाया था कि कश्मीर का प्रतिनिधित्व करने वाले नेताओं को भाजपा ने नजरबंद किया है। अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद प्रदेश कांग्रेस की अगली रणनीति पर चर्चा की जाएगी। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रवींद्र शर्मा के अनुसार गुरुवार को श्रीनगर में गुलाम नबी आजाद के पहुंचने की सूचना है।