Home Jammu Kashmir Jammu जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान योजना में फर्जी कार्ड बनाने का हुआ खुलासा

जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान योजना में फर्जी कार्ड बनाने का हुआ खुलासा

343
SHARE

देश में गोल्डन कार्ड बनाने में पहले स्थान पर रहे जम्मू कश्मीर में भी आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में फर्जी कार्ड बनाने के मामले सामने आए हैं। हालांकि विभागीय अधिकारियों ने कार्रवाई करते हुए इस पर रोक लगाने का प्रयास किया है। इस योजना के लाभार्थियों के कार्ड अभी भी बन रहे हैं।

सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण के अनुसार जम्मू कश्मीर में 6.30 लाख गरीब परिवारों के गोल्डन कार्ड बनने थे। राज्य के 31 लाख लोगों को इस योजना का लाभ मिलना है। योजना शुरू होने के चंद महीनों बाद ही 11 लाख लोगों के गोल्डन कार्ड बना दिए गए थे। इस दौरान कुछ शिकायतें भी मिलीं। कश्मीर के बडगाम में एक सरकारी अस्पताल में काम कर रहे आयुष्मान मित्रा ने कुछ लोगों के फर्जी कार्ड बनाकर उनका इलाज करवाया, लेकिन कार्डों की ऑनलाइन जांच की गई तो उनके नाम गोल्डन कार्ड हासिल करने वालों में नहीं थे। इसकी शिकायत आयुष्मान भारत के सीईओ भूपेंद्र कुमार से की गई तो उस कर्मचारी को नौकरी से निकाल दिया गया।