Home Jammu Kashmir Jammu जम्मू-कश्मीर : प्रदेश के तीन अफसरों को मिलेगा उत्कृष्टता पुरस्कार 

जम्मू-कश्मीर : प्रदेश के तीन अफसरों को मिलेगा उत्कृष्टता पुरस्कार 

426
SHARE

देश को दहला देने वाले पुलवामा हमले की जांच को अंजाम तक पहुंचाने वाले एनआईए के एसएसपी राकेश भलवाल को गृह मंत्रालय ने जांच के लिए उत्कृष्ट पुरस्कार देने का फैसला लिया है। इसके अलावा जम्मू में रोशनी घोटाले और फर्जी गन लाइसेंस जैसे मामलों की जांच कर रहे सीबीआई के डीएसपी शाम दत्त शर्मा और कश्मीर में नशाखोरी के मामलों की जांच में जुटी पुलिस की युवा महिला अफसर डीएसपी नीलता एंगमो को भी पुरस्कार के लिए चुना गया है।

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उत्कृष्ट जांच के लिए दिए जाने वाले अवार्ड की घोषणा कर दी है। देशभर में पुलिस, सीबीआई और एनआईए के अफसरों को यह सम्मान मिलता है। इन अवार्ड में जम्मू कश्मीर से तीन अफसरों को चुना गया है।  एनआईए के एसएसपी राकेश भलवाल, सीबीआई जम्मू के डीएसपी शाम दत्त शर्मा और जम्मू कश्मीर पुलिस की युवा महिला पुलिस अफसर डीएसपी निलजा एंगमो को अवार्ड के लिए चुना गया है।
बता दें कि एनआईए के एसएसपी राकेश भलवाल की निगरानी में ही पुलवामा जैसे हमले की जांच पूरी की गई। इस हमले को अंजाम देने वाला कोई भी आतंकी जिंदा नहीं बचा था। जिससे जांच करना काफी मुश्किल था। लेकिन भलवाल ने हिम्मत नहीं हारी और एक मोबाइल फोन की मदद से पूरे हमले की प्लानिंग को बाहर निकाल कर रख दिया। वहीं युवा महिला पुलिस अफसर नीलजा एंगमो इस समय कश्मीर के बड़गाम में तैनात हैं। जिन्होंने अपने क्षेत्र में ड्रग्स के मामलों की जड़ तक पहुंचकर इसे खत्म करने में बेहतरीन काम किया।
सिर्फ गृह मंत्रालय ने ही नहीं, बल्कि कश्मीर के स्थानीय लोग भी उनके इस कार्य के लिए काफी प्रशंसा करते हैं। सीबीआई जम्मू में कार्यरत डीएसपी शाम दत्त शर्मा ने जम्मू कश्मीर में रोशनी घोटाले और फर्जी गन लाइसेंस जैसे मामलों की जांच में बेहतरीन काम किया है। जिसके लिए उन्हें इस अवार्ड से सम्मानित किया गया है।