Home National जम्मू-कश्मीर और लद्दाख से 100 लोगों का प्रतिनिधिमंडल अमित शाह से मिला

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख से 100 लोगों का प्रतिनिधिमंडल अमित शाह से मिला

321
SHARE

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर के सरपंचों का एक प्रतिनिधि मंडल आज दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह से मिलने पहुंचा। राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के फैसले के बाद से पहली बार गृहमंत्री अमित शाह जम्मू-कश्मीर के लोगों से मिले हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक,जम्मू-कश्मीर पंचायत एसोसिएशन का एक प्रतिनिधिमंडल राज्य में अनुच्छेद 370 और 35ए को निरस्त करने को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने के लिए गृह मंत्रालय पहुंचा।

जम्मू-कश्मीर से आए एक प्रतिनिधिमंडल में जम्मू, श्रीनगर, पुलवामा और लद्दाख से करीब 100 लोग शामिल थे। पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा खत्म किए जाने और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किए जाने के बाद से वहां से आए लोगों की यह पहली मुलाकात थी। अमित शाह के साथ प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात के बारे में गृह मंत्रालय ने कोई जानकारी नहीं दी है, लेकिन यह समझा जा रहा है कि सरकार के लोगों में विश्वास बढ़ाने के उपायों के तहत यह भेंट हुई है ।

जम्मू-कश्मीर के संबंध में लिए गए फैसले के बाद राज्य में हिंसा और आंदोलनों को रोकने के लिए कई तरह की पाबंदिया लगाई गई थी जिन्हें अब प्रशासन धीरे-धीरे खत्म कर रहा है। राज्य में स्कूल, अस्पताल और कायार्लयों में सामान्य रुप से कामकाज शुरु हो गया है। लैंडलाइन फोन सेवा भी बहाल कर दी गई है। हालांकि अभी श्रीनगर और घाटी में मोबाइल सेवाओं पर पाबंदी लगी हुई है। जम्मू और कश्मीर में इंटरनेट सेवाओं पर भी पाबंदी लगी है।

जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म किए जाने के बाद गठित दो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख 31 अक्टूबर से अस्तित्व में आ जायेंगे।