Home Jammu Kashmir Jammu जम्मू और श्रीनगर शहर के लिए उपराज्यपाल का बड़ा फैसला

जम्मू और श्रीनगर शहर के लिए उपराज्यपाल का बड़ा फैसला

2385
SHARE

जम्मू-कश्मीर के दोनों राजधानी शहरों जम्मू और श्रीनगर में लोगों को जल्द बिजली के खंभों पर लटकी तारों से निजात मिलेगी। उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने वीरवार को प्रस्तावित स्ट्रीट डेवलपमेंट प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए सभी तारों को भूमिगत बनाने का निर्देश दिया। इसके साथ उन्होंने जम्मू में तवी नदी के तट को साबरमती तट की तर्ज पर विकसित करने की कार्ययोजना को आगे बढ़ाने का भी निर्देश दिया।

राजभवन से मिली जानकारी के अनुसार, जम्मू व श्रीनगर को स्मार्ट सिटी बनाए जाने की परियोजना पर जारी काम की समीक्षा के लिए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की अध्यक्षता में नागरिक सचिवालय में एक बैठक हुई। इसमें सभी प्रशासकीय सचिव, स्मार्ट सिटी परियोजना विशेषज्ञ व अन्य संबंधित अधिकारियों ने भाग लिया। उपराज्यपाल ने स्मार्ट सिटी परियोजना को निर्धारित समयावधि में पूरा करने के निर्देश देते हुए कहा कि यह परियोजनाएं जम्मू व श्रीनगर शहर को आधुनिक व आर्थिक रूप से समृद्ध शहर बनाने के लिए शुरू की गई हैं।

इन दोनों शहरों में ट्रैफिक व्यवस्था को बेहतर व सुगम बनाने और प्रशासकीय दक्षता को बढ़ाने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। उन्होंने प्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकि पर आधारित स्मार्ट नागरिक सेवाओं को कार्यान्वित करने के लिए भी आवश्यक कदम उठाने को कहा। उपराज्यपाल ने स्मार्ट सिटी अहमदाबाद डेवलपमेंट लिमिटेड द्वारा परियोजनाओं को पूरा करने के लिए अपनाए गए तौर तरीकों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने प्रदेश में स्मार्ट सिटी परियोजना से संबंधित अधिकारियों से कहा कि वह स्मार्ट सिटी अहमदाबाद डेवलपमेंट लिमिटेड के अधिकारियों के अनुभव का भी लाभ उठाएं।

बैठक में साबरमती रिवर फ्रंट विकास निगम लिमिटेड (एसआरएफडीसीएल) के चेयरमैन केशव वर्मा, अहमदाबाद नगर निगमायुक्त मुकेश कुमार, स्मार्ट सिटी अहमदाबाद डेवलपमेंट लिमिटेड के सीईओ नीतिन सागवान और एसआरएफडीसीएल के तकनीकी महाप्रबंधक जगदीश पटेल ने स्मार्ट सिटी परियोजना के विभिन्न पहलुओं पर अपनी राय और अनुभव साझा किए। साबरमती रिवर फ्रंट विकास निगम के विशेषज्ञों ने तवी रिवर फ्रंट पर बाढ़ नियंत्रण के उपायों का भी जिक्र किया। उन्होंने अहमदाबाद में साबरमती रिवर फ्रंट के विकास के दौरान पेश आई चुनौतियों व उनसे निपटने के लिए अपनाई गई योजना से उपराज्यपाल को अवगत कराया।

इस दौरान जम्मू स्मार्ट सिटी की सीईओ सुषमा चौहान ने स्मार्ट सिटी जम्मू परियोजना के तहत स्थापित किए जा रहे एक एकीकृत नियंत्रण केंद्र, स्मार्ट शहरी गतिशीलता व यातायात प्रबंधन प्रणाली, शहरी सौंदर्यीकरण, प्रकाश व्यवस्था, हरित उपाय और कचरा प्रबंधन के बारे में भी बताया।