Home Jammu Kashmir चीन से वैचारिक मतभेद के बावजूद संबंध सौहार्दपूर्ण: राजनाथ सिंह

चीन से वैचारिक मतभेद के बावजूद संबंध सौहार्दपूर्ण: राजनाथ सिंह

452
SHARE

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और जनरल रावत ने आज लेह में चीन सीमा से लगी लाइन ऑफ़ एक्चुअल कण्ट्रोल के पास दौलत बेग ओल्डी से जोड़ने वाली नवनिर्मित सड़क पर बने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण पुल का उद्घाटन किया। पुल का नाम भारतीय सेना के प्रतिष्ठित सैनिक कर्नल शेवांग रिनशेन के नाम पर रखा गया है जो की लद्दाख के रहने वाले थे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस दौरान कहा कि कश्मीर भारत का आंतरिक और अभिन्न मामला है। यहां तक कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने भी महाबलीपुरम में पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात में कश्मीर का जिक्र नहीं किया। उन्होंने कहा कि आतंक के खिलाफ कार्रवाई के लिए चीन का हालिया बयान भी महत्वपूर्ण है।

सिंह ने कहा कि भारत के चीन के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध हैं। सीमा के मुद्दे पर दोनों देशों के बीच वैचारिक मतभेद हैं, लेकिन इस मुद्दे को बड़ी परिपक्वता और जिम्मेदारी के साथ संभाला गया है।

वहीं पीओके में कल भारतीय सेना द्वारा आतंकी लॉन्च पैड्स के खिलाफ किए गए ऑपरेशन को लेकर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लो ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को विस्तृत जानकारी दी। इस दौरान सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत भी उपस्थित थे। वहीं लद्दाख में पर्यटन और विकास के मुद्दे पर राजनाथ सिंह ने कहा कि सियाचिन क्षेत्र अब पर्यटकों और पर्यटन के लिए खुला है।