Home Jammu Kashmir Jammu घोरड़ी-बरमीन जर्जर सड़क निर्माण से ग्रामीणों में रोष, कहा, स्थानीय नेता व...

घोरड़ी-बरमीन जर्जर सड़क निर्माण से ग्रामीणों में रोष, कहा, स्थानीय नेता व प्रशासन बना रहा मुर्ख

502
SHARE

कालड़ी घोरड़ी-बरमीन सड़क मार्ग की जर्जर हालत और प्रशासन की अनदेखी के विरोध में सैकड़ों लोगों ने जाम लगाकर प्रदर्शन किया। उनका आरोप था कि डबल लेन करने के नाम पर घोरडी ब्लाक के लोगों को स्थानीय भाजपा नेता व प्रशासन की तरफ से उन्हें ठगा गया है। जिसके कारण यातायात प्रभावित रहा। प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
बुधवार सुबह बरमीन में प्रदर्शनकारियों ने दर्जनों स्थानों पर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई मौजूदा सड़क के उचित रखरखाव और रखरखाव को सुनिश्चित करने में सरकार की उदासीनता के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए मुख्य सड़क को अवरुद्ध कर दिया। उनका आरोप था जर्जर सड़क के कारण कई दुर्घटनाएं हुई हैं। प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन के साथ-साथ केंद्र व भाजपा के खिलाफ भी नारेबाजी कर विरोध जताया।
जम्मू कश्मीर नैशनल पैंथर्स के चेयरमैन एवं पूर्व शिक्षामंत्री हर्ष देव सिंह ने पीडब्ल्यूडी के संबंधित अधिकारियों और क्षेत्र के निर्वाचित प्रतिनिधियों पर घोरड़ी-बरमीन सड़क मार्ग की उचित मरम्मत सुनिश्चित करने में लापरवाही का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उबड़-खाबड़ सड़क पर गड्ढे हो गए हैं। क्षतिग्रस्त रिटेनिंग दीवारों से भरी हुई थी। जिससे यात्रियों और अन्य वाहनों के लिए एक बड़ा खतरा पैदा हो गया है। उन्होंने कहा कि कई दुर्घटनाओं के बाद भी सरकारी अधिकारियों की नींद नहीं खुली है। संबंधित अधिकारियों की दर्जनों शिकायतों के बहरे कानों के साथ, लोगों के पास आदोलन के सिवाय कोई सहारा लेने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था। केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी द्वारा 2014 के दौरान घोरडी गाव में दिए बयान को याद करते हुए हर्ष देव सिंह ने खुलासा किया कि केंद्रीय केंद्रीय मंत्री ने कालड़ी बरमीन-घोरडी-रामनगर रोड से डबल लेन के जल्द निर्माण का आश्वासन दिया था। उन्होंने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार डबल लेन के निर्माण के बजाय मौजूदा सिंगल रोड को भी यातायात योग्य स्थिति में रखने में विफल रही है। जिस ठेकेदार को 2017-18 में उक्त सड़क के रख-रखाव और उन्नयन का काम सौंपा गया था, उसने लगभग दो साल पहले काम छोड़ दिया था और मौजूदा हिस्सों को बड़े पैमाने पर नष्ट कर दिया था। साथ ही साथ पीएचई के सिंचाई कनालों और जलाशयों को नुकसान पहुंचाया था।
हर्ष देव सिंह ने सड़क पर काम की तत्काल बहाली और इसे शीघ्र डबल लेन करने की माग करते हुए कहा कि यदि लोगों की मांग पूरी नहीं की गई तो बडे़ पैमाने पर आदोलन किया जाएगा।