Home Jammu Kashmir Kashmir गणतंत्र दिवस का तोहफाः पूरे जम्मू-कश्मीर में 2जी मोबाइल इंटरनेट बहाल

गणतंत्र दिवस का तोहफाः पूरे जम्मू-कश्मीर में 2जी मोबाइल इंटरनेट बहाल

438
SHARE

नए जम्मू कश्मीर में पहले गणतंत्र दिवस पर सरकार ने मोबाइल इंटरनेट बहाली का आम नागरिकों को तोहफा दिया है। अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पांच महीने से अधिक समय से निलंबित मोबाइल इंटरनेट सेवा शनिवार से पूरे जम्मू-कश्मीर में बहाल कर दी गई है।
फिलहाल इंटरनेट की स्पीड 2जी ही होगी। यह सुविधा पोस्ट पेड तथा प्रीपेड दोनों ही मोबाइल धारकों को उपलब्ध होगी। सरकार ने इसके साथ ही 301 वेबसाइट की व्हाइट लिस्ट सूची जारी की है, जिसका उपयोग उपभोक्ता कर सकते हैं। इसके पहले 153 वेबसाइट की व्हाइट लिस्ट जारी की गई थी। गृह विभाग के प्रमुख सचिव शालीन काबरा की ओर से यह आदेश शुक्रवार को जारी किया गया।

आदेश में कहा गया है कि मोबाइल पर 2जी इंटरनेट सेवा 31 जनवरी तक बहाल रहेगी। इसके बाद समीक्षा कर इसे जारी रखने पर विचार किया जाएगा। जम्मू संभाग के सभी 10 जिलों तथा कश्मीर संभाग के दो जिलों कुपवाड़ा व बांदीपोरा में 2जी मोबाइल इंटरनेट सुविधा 18 जनवरी को बहाल की गई थी।

मोबाइल इंटरनेट का लाभ केवल पोस्टपेड मोबाइल उपभोक्ताओं को ही दिया गया था, लेकिन ताजा आदेश में प्री पेड और पोस्ट पेड दोनों ही शामिल हैं। लोगों को संचार सेवाओं का फायदा देने के लिए जो कंपनियां साफ्टवेयर या आईटी में काम करती हैं, उन्हें फिक्सड लाइन इंटरनेट सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी। मोबाइल सिम पर इंटरनेट का फायदा लेने के लिए कंपनियों को वेरीफिकेशन करना होगा।

इसके साथ ही हिदायत दी गई है कि उपभोक्ता इंटरनेट का दुरुपयोग न हो, इसकी खुद निगरानी करें। कश्मीर में गत 14 अक्तूबर को पोस्टपेड सेवा बहाल की गई थी लेकिन सुरक्षा कारणों से प्रीपेड सेवा को बंद रखा गया था।

व्हाइट सूची में बैंकिंग, समाचार, शिक्षा, मनोरंजन की वेबसाइट
व्हाइट वेबसाइटों में बैंकिंग, शिक्षा, मनोरंजन, पर्यटन, समाचार,ु सुविधाओं, मौसम आदि क्षेत्रों को शामिल किया गया है। इनकी जानकारी टेलीकाम कंपनियों को दी गई है। सर्वोच्च न्यायालय के हस्तक्षेप के बाद प्रशासन ने चरणबद्ध तरीके से मोबाइल इंटरनेट पर 2जी सेवा की बहाली की है।

सोशल साइट्स की सुविधा नहीं
मोबाइल कंपनियों को उपभोक्ताओं द्वारा सोशल मीडिया साइट्स का इस्तेमाल न करना सुनिश्चित बनाने को कहा गया है। आदेश में कहा गया है कि हालात की समीक्षा के बाद चरणबद्ध तरीके से संचार सेवाओं को बहाल किया गया है।

सरकारी दावों के बाद भी सेवा शुरू नहीं
सरकार के दावों के बाद भी मोबाइल सेवा इंटरनेट सेवा आधी रात को बहाल नहीं हो सकी। जम्मू और कश्मीर संभाग दोनों ही जगह लोग इंटरनेट बहाली का इंतजार करते रहे। हालांकि, कुछ स्थानों पर यह सेवा बहाल भी हुई।