Home Jammu Kashmir Jammu किश्तवाड़ में फिर हो सकती है हालात बिगाड़ने की साजिश, एजेंसियां सतर्क

किश्तवाड़ में फिर हो सकती है हालात बिगाड़ने की साजिश, एजेंसियां सतर्क

525
SHARE

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में कुछ और लोगों को निशाना बनाकर हालात खराब करने की साजिश हो सकती है। ऐसी सूचनाओं से खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गई हैं।

पहले परिहार बंधुओं और फिर आरएसएस के प्रांत सह सेवा प्रमुख चंद्रकांत शर्मा की हत्या के बाद यहां हालात संवेदनशील हैं। ऐसी सूचनाओं में कितनी सच्चाई है इसकी पड़ताल की जरूरत है, लेकिन इसे हल्के में नहीं लिया जा सकता।
किश्तवाड़ में 90 के दशक में आतंकवाद शुरू होने के दो दशकों बाद थोड़ी बहुत लगाम लगी थी। 2011 के बाद किश्तवाड़ व डोडा में कुछ आतंकी को छोड़कर दोनों जिलों के आंतकमुक्त होने का दावा किया गया था, लेकिन पिछली घटनाओं ने हालात बदल दिए हैं।

पिछले साल नवंबर में आतंकवादियों ने भाजपा प्रदेश सचिव अनिल परिहार, उनके भाई अजीत परिहार की हत्या कर दी। किश्तवाड़ के डीसी के अंगरक्षक से एके-47 राइफल छीने जाने की भी घटना हुई।

गत दिनों एक आतंकी ने किश्तवाड़ के जिला अस्पताल में घुसकर RSS नेता चंद्रकांत शर्मा की गोलियों हत्या कर दी। ऐसे में किसी भी सूचना को हल्के में नहीं लिया जा सकता।