Home National अटल बिहारी वाजपेयी की आज पहली पुण्यतिथि, राजनेताओं व् लोगों ने दी...

अटल बिहारी वाजपेयी की आज पहली पुण्यतिथि, राजनेताओं व् लोगों ने दी श्रदांजलि

521
SHARE

भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य, भारत रत्न और देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की आज पहली पुण्यतिथि है। 2018 में आज के ही दिन, यानी 16 अगस्त को अटल बिहारी वाजपेयी ने दिल्ली के एम्स अस्पताल में आखरी सांस ली थी। उनके निधन की खबर से पूरा देश शोक में डूब गया।

वह भारतीय राजनीति के उन चंद नेताओं में से हैं जिन्हें हमेशा ही सभी पार्टियों से भरपूर प्यार व स्नेह मिला। यहां तक कि जम्मू-कश्मीर में भी वह सबसे लोकप्रिय नेता रहे हैं।

साल 2004 में हुए लोकसभा में एनडीए की हार के बाद उन्होंने राजनीति से संन्यास ले लिया था। उसके बाद उनकी सेहत लगातार बिगड़ती चली गई। कुछ दिन बाद एक स्ट्रोक के चलते उनकी आवाज चली गई। जिस दमदार आवाज और भाषण के दम पर अटल बिहारी वाजपेयी राजनीति में 50 सालों से ज्यादा शिखर पर रहे अब वह शांत हो गए और इशारों से ही बात करते थे। अटल बिहारी वाजपेयी भले ही खामोश हो गए थे लेकिन उनके भाषण और कविताएं बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच जोश भरती थीं। चुनावों में उनकी कविताओं का इस्तेमाल जरूर होता था।

अटल जी की कुछ कविताओं का मैं ज़िक्र करना चाहूंगी-

सच्चाई यह है कि
केवल ऊँचाई ही काफ़ी नहीं होती,
सबसे अलग-थलग,
परिवेश से पृथक,
अपनों से कटा-बँटा,
शून्य में अकेला खड़ा होना,
पहाड़ की महानता नहीं, ,मजबूरी है।

ऊँचाई और गहराई में
आकाश-पाताल की दूरी है।
जो जितना ऊँचा,
उतना एकाकी होता है,
हर भार को स्वयं ढोता है,
चेहरे पर मुस्कानें चिपका,
मन ही मन रोता है।

भारत ज़मीन का टुकड़ा नहीं,
जीता जगता राष्ट्रीपुरुष है।
हिमालय मस्तक है,कश्मीर किरीट है।
पंजाब और बंगाल दो विशाल कंधे हैं।
पूर्वी और पश्चमी घाट दो विशाल जांघे हैं।
कन्याकुमारी इसके चरण हैं,
सागर इसके पग पखारते हैं।

यह चन्दन की भूमि है,
अभिनन्दन की भूमि है।
यह तरपन की भूमि है,
यह अर्पण की भूमि है।
इसका कंकर-कंकर शंकर है,
इसका बिन्दु-बिन्दु गंगाजल है।
हम जियेंगे तो इसके लिए,मरेंगे तो इसके लिए।

कितने सुन्दर शब्दों में अटल जी ने भारत की व्याख्या की है। अटल जी अपनी कविताओं के माध्यम से सदैव हमारे बीच जीवित रहेंगे। ट्विटर में भी लोगों ने अटल जी की कविताओं के माद्यम से उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

आज के दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी के अन्य नेताओं ने दिग्गज दिवंगत नेता अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि पर सदैव ‘अटल’ जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके अलावा गृह मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

हमारी सम्पूर्ण टीम की ओर से दिग्गज दिवंगत नेता अटल बिहारी वाजपेयी को भावभीन श्रद्धांजलि।